d

d

16-1-22

भटके हुए को मार्ग पर लाया जा सकता है, रास्ता दिखाया जा सकता है, किन्तु जो जान-बूझ कर भटकता रहे उसे माग्र दिखाना व्यर्थ है|